अनजान को होटल में कुतिया बनाकर चोदा

0
Loading...

प्रेषक : राहुल …

हैल्लो दोस्तों, आप सभी पाठको को मेरा प्यार भरा प्रणाम, मेरा नाम राहुल है और में दिल्ली का रहने वाला हूँ। मेरी उम्र 24 साल है और मेरा लंड 9 इंच लंबा और 3 इंच मोटा है। में आज मेरे एक और सेक्स के बारे में आपको बताने जा रहा हूँ। दोस्तों फेसबुक पर मुझे एक लड़की मिली और उसने मुझे मेसेज किया।

फिर मैंने रिप्लाई में उससे पूछा कि आप दिल्ली में कहाँ की रहने वाली है? और आपकी उम्र क्या है? तो उसका जवाब आया कि में जी.के में रहती हूँ और मेरी उम्र 22 साल है। फिर मैंने उससे पूछा कि कभी किसी के साथ सेक्स किया है? तो उसने जवाब दिया नहीं। तो मैंने पूछा कि क्यों? कभी मन नहीं करता सेक्स करने के लिए? तो उसने कहा कि मन तो बहुत करता है, लेकिन मुझे डर लगता है कि कहीं सेक्स करने के बाद घर पर पता ना चल जाए। फिर मैंने उसे बताया कि इस मामले में में तुम्हारी मदद कर सकता हूँ अगर तुम मान जाओ तो। फिर वो बोली कि कैसे? तो मैंने बताया कि में तुम्हारे साथ सेक्स करने को तैयार हूँ और में किसी को कुछ भी नहीं बोलूँगा, ये मेरा वादा है। फिर उसने कहा कि लेकिन ये कैसे संभव होगा? तुम मुझे कहाँ मिलोगे? और हम लोगों को ऐसी जगह कहाँ मिलेगी? जहाँ हम दोनों के अलावा तीसरा कोई ना हो। फिर मैंने लिखा कि हम लोग होटल जाएँगे और वहाँ एक रूम लेंगे और पूरा दिन मज़ा करेंगे।

फिर उसने लिखा कि नहीं मुझे डर लगता है कही उल्टा सीधा हो गया तो। फिर मैंने लिखा कि ऐसा कुछ नहीं होगा, में अपने लंड पर कंडोम चढ़ा दूँगा तो फिर कुछ नहीं होगा, तुम मुझे शुक्रवार को सुबह 9 बजे मिलो, तो उसने कहा कि ठीक है और फिर वो शुक्रवार को मुझसे चुदवाने के लिए तैयार हो गयी। मैंने अभी तक उसको देखा भी नहीं था और ना उसकी आवाज़ सुनी थी। अब में फुल उत्तेजित था कि मुझे शुक्रवार को एक सील पैक चूत की सील तोड़ने के लिए मिलने वाली थी और फिर वो दिन आ गया।

अब में 8:30 बजे ही वहाँ चला गया था और मेडिकल शॉप से दो कंडोम ले लिए थे और उसका इंतजार करने लगा था। उसने कहा था कि में पिंक कलर का सलवार कमीज पहनकर आऊँगी और मैंने कहा था कि में ब्लेक टी-शर्ट और ब्लू जीन्स और जैकेट पहनकर आऊंगा। अब इससे हम एक दूसरे को पहचान सकते थे। फिर करीब 20 मिनट के बाद एक लड़की मेरे सामने आई और पूछा कि राहुल? तो मैंने कहा कि हाँ, तुम प्रिया हो? तो उसने हाँ कहते हुए अपनी गर्दन नीचे की, वो एकदम खूबसूरत थी, हाईट 5 फुट 4 इंच, फिगर 34-28-38, वो दिखने में एकदम सेक्सी थी। उसने पिंक कलर का सलवार कमीज पहना था, उसकी कमीज के ऊपर से उसके वो दो बॉल साफ-साफ दिखाई दे रहे थे, वो पूरे आम के शेप में थे। अब उसकी चूचीयाँ देखकर ही मेरा लंड खड़ा हो गया था।

फिर में उसको लेकर पहाड़गंज के एक होटल में गया और वहाँ एक रूम लेकर हम उस रूम में चले गये। अब रूम में जाते ही मैंने देखा कि वहाँ एक बेड था और टॉयलेट बाथरूम भी था। फिर मैंने दरवाजा बंद करके कुण्डी लगा दी। अब वो बेड पर बैठी थी। फिर में बाथरूम जाकर फ्रेश होकर आया और उसे फ्रेश होने को कहा, तो वो उठकर बाथरूम में चली गयी। फिर थोड़ी देर के बाद वो बाथरूम से बाहर आई तो वैसे ही मैंने उसको अपनी बाँहों में भर लिया और उसको धीरे-धीरे किस करने लगा। अब वो शर्माकर अपने आपको छुड़ाने लगी थी, तो में बोला कि क्या हुआ? तो वो बोली कि मुझे शर्म आती है। तो तभी में बोला कि हम लोग यहाँ मज़े करने आए है और अगर तुम ऐसे शरमाओगी तो ना तुम मज़ा ले पाओगी और न ही मुझे मज़ा आएगा, तो प्लीज ऐसा मत करो और अब में उसकी गर्दन पर, होंठो पर किस करने लगा था और बीच-बीच में उसके कान को भी चूम रहा था।

अब इस सबसे वो भी उत्तेजित हो गयी थी और मुझे जवाब देने लगी थी। फिर मैंने अपना एक हाथ आगे की तरफ लाते हुए उसके बूब्स पर रख दिया और अब मेरी उंगलियाँ उसकी चूची के ऊपर से धीरे- धीरे गोल-गोल घूमने लगी थी। अब वो एकदम सिहर गयी थी और मुझसे कहने लगी कि प्लीज ऐसा करो, उसे ज़ोर से दबाते रहो। अब में कुछ देर के बाद उसे फिर से धीरे-धीरे दबाने लगा था, वाह क्या बूब्स थे? एकदम टाईट। फिर मैंने अपना दूसरा हाथ भी आगे की तरफ लाते हुए उसकी दूसरी चूची पर रख दिया और धीरे-धीरे उसकी दोनों चूचीयाँ दबाने लगा था। फिर थोड़ी देर के बाद मैंने अपना एक हाथ नीचे ले जाते हुए उसकी चूत पर रख दिया। फिर जैसे ही मेरा हाथ उसकी चूत पर गया, तो वो वहाँ से मेरा हाथ निकालने की कोशिश करने लगी। फिर मैंने उससे कहा कि प्लीज, तो वो मान गयी और उसने अपने दोनों हाथों से मुझे जकड़ लिया। अब में उसकी कमीज के ऊपर से ही उसकी चूत को सहलाने लगा था। फिर थोड़ी देर के बाद मैंने उसकी कमीज के अंदर अपना एक हाथ डाला और उसकी चूत को सहलाने लगा। तो वो सिर्फ अपने मुँह से आवाजे निकालती रही आअहह, उूउउफ़फ्फ, जोर से।

फिर में अपना वही हाथ ऊपर ले जाकर उसकी कमीज के नीचे से उसकी चूचीयां दबाने लगा और उसने अंदर ब्रा पहनी थी। अब में उसकी ब्रा के ऊपर से ही उसकी चूचीयाँ एक-एक करके दबाने लगा था। फिर थोड़ी देर के बाद मैंने अपने दूसरे हाथ से उसकी कमीज की चैन खोल दी और उसकी कमीज ऊपर करके निकाल दी। अब वो मेरे सामने वाईट ब्रा में खड़ी थी, वो कमाल की सुंदर लग रही थी। अब में उसकी ब्रा के ऊपर से उसके बूब्स दबाने लगा था और फिर अपने दोनों हाथ पीछे ले जाकर उसकी ब्रा का हुक खोल दिया और उसकी ब्रा उसके हाथों से अलग कर दी, वाह क्या बूब्स थे उसके? पूरे गोल शेप में, उसके बूब्स नहीं ज्यादा छोटे थे और नहीं ज्यादा बड़े थे, बिल्कुल मीडियम साईज़ के थे। उसके बूब्स के ऊपर पिंक कलर के दो दाने थे, वो क्या खूबसूरत नज़ारा था? मैंने मेरी ज़िंदगी में पहली बार इतने अच्छे बूब्स देखे थे, ऐसे बूब्स तो शायद ही किसी के होंगे। अब में तो पागल ही हो गया था। अब में उसके दोनों बूब्स को अपने दोनों हाथों में लेकर दबाने लगा था, क्या कसाव था उनमें? वाह, अब में तो बस उन्हें दबाता ही रह गया था। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

अब मुझे ऐसा लग रहा था कि में इन्हें छोड़कर कहीं नहीं जाऊं। फिर 15-20 मिनट के बाद में अपना एक हाथ नीचे ले जाकर उसकी चूत को सहलाने लगा और फिर धीरे से उसकी सलवार का नाडा खींचा, तो वैसे ही उसकी सलवार नीचे गिर गयी। फिर तभी मैंने उसे अपनी गोद में उठा लिया और बेड पर लेटा दिया और उसकी सलवार उसके दोनों पैरो से आज़ाद कर दीज उसने सफ़ेद कलर की चड्डी पहनी थी। अब वो शर्माकर दूसरी तरफ देख रही थी। फिर मैंने अपनी शर्ट उतारी और फिर बनियान भी निकाली और फिर अपनी पेंट उतारी। अब में उसके सामने सिर्फ़ चड्डी में था और वो मेरे सामने सिर्फ़ एक छोटी सी पेंटी में थी। अब मेरा लंड तो एकदम खड़ा हुआ था। अब में बेड पर उसके ऊपर लेट गया था और उसके बूब्स दबाने लगा था। फिर तभी मैंने उससे कहा कि मेरा लंड टेस्ट करोगी? तो उसने ना कहा और बोली कि मुझे मुँह में नहीं लेना है। तो में बोला कि ठीक है जैसी तुम्हारी मर्ज़ी और फिर अपना एक हाथ नीचे ले जाकर उसकी चूत को सहलाने लगा। अब उसकी चड्डी गीली हुई थी।

फिर मैंने अपना एक हाथ उसकी चड्डी में डाल दिया, तो वो सिहर गयी। अब मेरे हाथ पर उसकी झांट के बाल लग गये थे तो मैंने उससे पूछा कि कभी इसे साफ नहीं करती हो क्या? तो उसने अपनी गर्दन हिलाकर ना कहा। फिर में अपनी एक उंगली उसकी चूत के छेद पर फैरने लगा। तो वो आअहह, उउउफ्फ, आआहह, सस्स्स, हाईईई, आआआहह करती रही। तो फिर में वही उंगली उसकी चूत में घुसेड़ने लगा, तो वो फिर से चिल्लाने लगी। अब मेरी पूरी उंगली उसकी चूत में चली गयी थी, उसकी चूत काफी टाईट थी। अब में मेरी उंगली अंदर ही अंदर गोल-गोल घुमाने लगा था। अब वो सिर्फ़ आहह, उउउफ़फ्फ, जोर से कर रही थी। फिर थोड़ी देर के बाद मैंने अपना हाथ उसकी चड्डी से बाहर निकाला और उठकर बैठ गया और उसकी चड्डी निकालने लगा। अब वो शरमा रही थी।

Loading...

अब मैंने उसकी चड्डी उसके पैरों से अलग कर दी थी और उसकी चूत देखने लगा था। फिर तभी उसने अपने दोनों पैर एक के ऊपर एक रख दिए और अपनी चूत छुपाने की कोशिश करने लगी। फिर मैंने उसके दोनों पैर अलग करके उसे पकड़ लिया। अब मुझे उसकी चूत दिखने लगी थी, क्या चूत थी उसकी? एकदम कोरी चूत, उसकी चूत पूरी तरह से सील पैक थी। अब मैंने फिर से अपनी एक उंगली उसकी चूत में घुसा दी थी और उसके गुलाबी लिप्स पर अपने लिप्स रखकर किस करने लगा था और साथ ही साथ अपनी एक उंगली अंदर बाहर करने लगा था। अब वो एकदम पागल हो गयी थी और मेरा हाथ पकड़कर ज़ोर-ज़ोर से मेरी उंगली को अंदर बाहर करने लगी थी। फिर थोड़ी देर में ही उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया और मेरा हाथ गीला कर दिया। अब मैंने सोच लिया था कि उसे चोदने का यही सही टाईम है, क्योंकि अब उसकी चूत पूरी तरह से गीली हो गयी थी। अब मैंने अपनी अंडरवेयर उतार दी थी, तो वो मेरा खड़ा हुआ 9 इंच लंबा लंड देखकर हैरान हो गयी और बोली कि में तो झूठ समझी थी, लेकिन तुम्हारा तो सच में बहुत लंबा है।

Loading...

फिर तभी में बोला कि डरो नहीं, मेरा वादा है कुछ टाईम के बाद तुम ही बोलोगी ज़ोर-ज़ोर से पूरा डालो। फिर मैंने अपनी पेंट में से कंडोम का पैकेट निकाला और फिर मैंने उससे कहा कि यह कंडोम है, कभी देखा है? तो उसने गर्दन हिलाकर ना कहा। फिर मैंने उसमें से एक कंडोम बाहर निकाला और उससे कहा कि देख लो इसे लंड पर कैसे चढ़ाते है? अगली बार तुम्हें ऐसा वाला दूसरा कंडोम मेरे लंड पर चढ़ाना होगा, तो वो गौर से देखने लगी। अब मैंने कंडोम अपने लंड पर चढ़ा दिया था, मैंने कल ही अपनी झांट के बाल साफ किए थे। फिर मैंने उसकी दोनों टाँगे घुटनों से मोड़ दी और जितनी संभव हो सके उतनी फैला दी थी। अब उसकी चूत खुल चुकी थी और अब में उसकी दोनों टांगो के बीच में उसके ऊपर आ गया था।

फिर मैंने अपना लंड अपने एक हाथ से उसकी चूत पर रख दिया और उसकी चूत पर रगड़ने लगा। अब वो बुरी तरह से पागल हो गयी थी और मुझसे कहने लगी कि प्लीज जल्दी डाल दो वरना में मर जाउंगी, प्लीज जल्दी करो, फाड़ दो मेरी चूत इस लंड से, प्लीज। तो मैंने एक ज़ोर से धक्का मारा, तो वो तड़प उठी और चिल्लाने लगी, उईईईईई माँ में मरररर गयी, हाईईईईईई, आहह, मेरी चूत फट गगयययययी, निकालो इसे, आआअहह। फिर थोड़ी देर तक मैंने मेरा लंड ऐसे ही रखकर एक और ज़ोर से धक्का मारा, तो वैसे उसकी सील टूट गयी और वो रोने लगी। अब वो चिल्ला उठी थी आआहह प्लीज निकालो इसे, में मर जाउंगी, प्लीज। वो तो शुक्र है कि मैंने टी.वी तेज आवाज में ऑन किया हुआ था वरना होटल वाले आ जाते। फिर मैंने उससे कहा कि कुछ नहीं होगा, ऐसे ही पड़े रहो दर्द कम हो जाएगा और फिर हम दोनों थोड़ी देर तक ऐसे ही पड़े रहे। अब उस वक़्त में उसके बूब्स दबा रहा था और उसका दूसरा बूब्स चूस रहा था।

फिर 5 मिनट के बाद वो अपनी गांड हिलाने लगी, तो में समझ गया कि अब वो अपनी चूत को चुदवाने के लिए मेरे लंड के धक्को का इंतजार कर रही है। अब में अपना लंड उसकी चूत में अंदर बाहर करने लगा था। अब उसे भी मज़ा आ रहा था और अब वो भी अपनी गांड ऊपर नीचे करके साथ देने लगी थी। अब में अपनी स्पीड बढ़ाते हुए ज़ोर-ज़ोर से धक्के मारने लगा था। अब वो चिल्ला रही थी जिससे मुझे और भी मज़ा आ रहा था। फिर थोड़ी ही देर में वो मुझसे लिपट गयी और उसने अपनी चूत से ढेर सारा पानी छोड़ दिया, लेकिन मेरा लंड अभी भी जोश में था। फिर मैंने उससे बोला कि अब में तुम्हें डॉगी स्टाइल में चोदूंगा। फिर वो झट से डॉगी बन गयी, वाह पीछे से क्या शेप थी उसकी? फिर मैंने बिना टाईम ख़राब किए उसकी चूत पर अपना लंड रखा और एक जोरदार धक्का मारा तो एक ही धक्के में मेरा पूरा का पूरा 9 इंच लंबा लंड उसकी चूत को फड़ता हुआ जड़ तक पहुँच गया। फिर तभी वो चीखती हुई बोली कि ऊईईईईईई माँ, आआअ राहुल, प्लीज आराम से। फिर में धीरे-धीरे उसकी चूत में अपना लंड अंदर बाहर करने लगा।

फिर कुछ देर के बाद वो खुद ही पीछे की तरफ धक्के मारने लगी और बोलने लगी कि राहुल आज अपनी पूरी ताकत से मेरी चूत को चोदो, जो होगा देखा जाएगा। फिर क्या था? अब में पूरे जोश के साथ उसकी चूत को चोदने लगा था और वो ऊऊहह, आह, ईसस्स, हाईई, सस्स्सस्स, राहुल हाईईईई, सस्सस्स करती रही। फिर करीब 15-20 मिनट के बाद मैंने भी कंडोम में अपना पानी छोड़ दिया और वो भी झड़ गयी थी। फिर में उसके पीछे ही उसकी चूत में अपना लंड डालकर लेट गया। फिर 10 मिनट के बाद मैंने उसकी चूत में से अपना लंड बाहर निकाला और उसके ऊपर से उठ गया और देखा तो उसकी चूत से थोड़ा बहुत खून निकला था। अब खून और उसकी चूत से निकले पानी से उसकी चूत पूरी तरह से गीली हो चुकी थी। फिर मैंने अपने लंड से कंडोम उतारा और उसे अपनी बाँहों में उठाकर टॉयलेट में ले गया और वहाँ उसे बैठाकर ठंडे पानी से उसकी चूत साफ करने लगा।

अब उसकी चूत में उंगली डालकर साफ करने की वजह से मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया था। फिर मैंने उसकी चूत साफ करके उसे फिर से अपनी बाँहों में उठाया और उसे बेड पर लाकर रख दिया। अब मेरा लंड मेरा पसंदीदा शॉट मारने के लिए बेकरार था। फिर मैंने अपनी पेंट की जेब में से एक कंडोम निकाला और उसके हाथ में दे दिया और उससे कहा कि इसे मेरे लंड पर चढ़ा दो। फिर उसने उसमें से कंडोम बाहर निकालकर मेरे लंड पर रखा और उसे मेरे लंड पर चढ़ा दिया। फिर मैंने उसकी दोनों टाँगे अपने कंधे पर रखी और नीचे से मेरा लंड उसकी चूत में पूरी तरह से घुसा दिया और उसकी बाँहों में से अपने दोनों हाथ डालकर उसे ऊपर उठाया। अब में खड़ा था और उसकी दोनों टाँगे मेरे कंधे पर थी और मेरे दोनों हाथ उसकी पीठ के पीछे थे और अब मेरा लंड उसकी चूत में था।

फिर मैंने अपनी थोड़ी सी पीठ सहारे के लिए दीवार पर टच की और अपनी कमर आगे पीछे करने लगा। अब इस पोज़िशन में मेरा पूरा का पूरा लंड उसकी चूत में चला जा रहा था। अब जब में प्रिया को इस तरह से चोदता तो मुझे दीवार का सहारा लेने की जरूरत नहीं पड़ती, क्योंकि वो सिर्फ़ 22 साल की थी और उसका वजन बहुत ही कम था। अब मेरा लंड उसकी चूत में अंदर बाहर हो रहा था। फिर मैंने उससे पूछा कि मज़ा आ रहा है ना? तो उसने हाँ कहते हुए कहा कि ऐसे ही चोदते रहो मेरे राहुल, में तुम्हारी दीवानी हो गयी हूँ, में शादी के बाद भी तुम्ही से ही चुदवाऊंगी और ज़ोर से चोदो, फाड़ डालो मेरी चूत को और कसकर चोदो। फिर 20-30 मिनट के बाद मैंने उसे बेड पर रख दिया और कुत्ते की तरह होने को कहा तो उसने अपने दोनों हाथ जमीन पर रखे और घुटनों के बल कुत्ते की तरह हो गयी। अब मैंने उसके दोनों पैर थोड़े से फैला दिए थे और पीछे से मेरा लंड उसकी चूत में डाल दिया था और उसे डॉग शॉट मारने लगा था। फिर 15 मिनट के बाद मैंने अपना पानी छोड़ दिया और अब इस दौरान वो दो बार झड़ चुकी थी।

फिर मैंने अपने लंड से कंडोम उतारा और अब दोपहर के 12 बज गये थे। फिर मैंने उससे कहा कि कपड़े पहन लो, खाना खाने चलते है, तो वो उठकर बाथरूम में चली गयी। अब में भी उसके पीछे चला गया था। तो वो कहने लगी कि तुम बाहर जाओ, मुझे पेशाब करना है। तो मैंने कहा कि उसमें इतनी शरमाने वाली क्या बात है? और फिर में उसके सामने ही पेशाब करने लगा। अब वो गौर से देख रही थी। फिर जैसे ही मेरा पेशाब ख़त्म हुआ, तो वो बैठ गयी और पेशाब करने लगी, उसने बड़ी ज़ोर से धार मारी थी। फिर वो खड़ी होकर पानी से अपने पैर और चूत पर गिरा हुआ पानी साफ करने लगी। फिर हम दोनों बाथरूम में से बाहर आ गये। फिर मैंने अपने कपड़े पहन लिए और फिर उसने पहले अपनी चड्डी पहनी और फिर अपनी ब्रा पहनी और फिर मैंने उसकी ब्रा के हुक लगा दिए।

फिर उसने अपनी सलवार पैरो में चढ़ाई और लास्ट में उसने अपनी कमीज पहनी। फिर उसने अपने बाल और कपड़े ठीक किए और फिर हम खाना खाने के लिए चले गये। फिर खाना खाने के बाद वो बोली कि एक बार और तो में बोला कि नहीं मुझे 2 बजे तक कही काम से जाना है, अब तुम घर जाओ और यह मेरा नंबर रखो, फिर फोन करना। फिर हम दोनों ने एक दूसरे को अपने नंबर दिए और फिर वो मुझे किस करने के लिए एक कोने में ले गयी और मुझे किस किया और बोली कि प्लीज जल्दी मिलना और फिर वो वहाँ से चली गयी। फिर मैंने होटल का बिल दिया और अपने काम से चला गया ।।

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


sexi hinde storysex ki story in hindisex story hindi allread hindi sex kahanisaxy store in hindisexe store hindehindi sexy atorysexy stotysax hinde storesex story of in hindihidi sexi storysex khaniya hindisexi kahani hindi mehindi sx kahanisex story in hidisexy sex story hindihindi sex storesexy syorysexy story hinfihindi sex kahani hindihindi saxy storehindi sex storegandi kahania in hindisexi khaniya hindi meindian sexy story in hindisexy story com in hindihindi sex stohindi sexi storiesex story in hidihindisex storyshindi sexy stroeshindu sex storihindi sxe storyhindi font sex kahaninew hindi sexy storeyhindi sexy story adiosex story hindusex stories in hindi to readhindi sex story hindi languagesex khaniya in hindisexy storishvidhwa maa ko chodawww sex story hindisexy adult hindi storyhinde sexi storehindi sex storey comsex stori in hindi fonthindi sexe storisexi hidi storysx storyshindi sexi storeishindi sexy atorysexi storeysex hindi stories comhindi sexy storuessex stores hindesex hindi stories freesex khaniya in hindihindi sexy sorysexi hinde storyankita ko chodahindi sex stories read onlinehidi sexi storysexi storeykamuktha comwww new hindi sexy story comsexy syoryhindhi saxy storyhindi sex stories to readhindi sex astorihind sexi storyhindi sexi storeisnew hindi story sexyhhindi sexsex hindi sitoryhindi sexy sotori