सोनी के साथ चुदाई की कहानी

0
Loading...

प्रेषक : अक्षय …

हैल्लो दोस्तों मेरा नाम अक्षय है और मेरी उम्र 21 है और में कामुकता डॉट कॉम का बहुत बड़ा फेन हूँ और मुझे इसकी सभी सेक्सी कहानियाँ पढ़ना बहुत अच्छा लगता है में ऐसा पिछले कुछ सालों से लगातार करता आ रहा हूँ और आज में अपनी लाईफ की एक सच्ची घटना आप लोगों को बताने जा रहा हूँ जिसमें मैंने अपनी एक गर्लफ्रेंड को चोदा और उसके साथ चुदाई के बहुत मज़े लिए। में उम्मीद करता हूँ कि इसको पढ़कर आप सभी लोगों को बहुत मज़ा आएगा। दोस्तों में कोलकाता से हूँ और आप लोगों को बहुत अच्छी तरह से पता है कि कोलकाता एक बड़ा शहर है और यह घटना मेरे साथ पिछले साल घटी थी और अब चलिए में अपनी कहानी को शुरू करता हूँ। दोस्तों वैसे तो में एक स्टूडेंट हूँ और मेरा उस समय एक बहुत अच्छा दोस्त था। उसका नाम आकाश था और उससे मेरी बहुत अच्छी दोस्ती थी, वो और में एक साथ एक ही ट्यूशन में पढ़ते थे। उसकी एक चचेरी बहन थी उसका नाम सोनी था और वो दिखने में बहुत सुंदर और आकर्षक थी और उसके फिगर का साईज करीब 32- 28 -30 था और उसके होंठ इतने गुलाबी मदहोश करने वाले थे कि आप पूछो ही मत वो भी हमारे साथ ही पढ़ती थी।

दोस्तों पहले तो में उसको एक दोस्त की नजर से देखा करता था, लेकिन धीरे धीरे वो मेरे बहुत करीब आने लगी थी और हम किसी भी बहाने से एक दूसरे से बातें करते थे और इस बीच हमने अपने फोन नंबर भी एक दूसरे को दे दिए थे और हमारी बातें भी शुरू हो गई थी। दोस्तों पहले तो वो मेरे सामने बहुत शरीफ़ टाईप की बनती थी और वो मुझसे हमेशा पढ़ाई से सम्बन्धित बातें ही किया करती थी और इसलिए में भी उससे ज़्यादा खुलकर बातें नहीं कर पाता था। एक दिन उसने ग़लती से मुझे एक सेक्सी मेसेज भेज दिया जो वो अपनी किसी दूसरी दोस्त को कर रही थी और तब मुझे उस मेसेज को पढ़कर बहुत अच्छी तरह से समझ में आ गया था कि यह क्या चीज़ है? फिर बाद में उसने मुझसे उस मेसेज के लिए सॉरी बोला और मैंने कहा कि कोई बात नहीं सब ठीक है यह बातें मामूली है और मैंने भी एक के बाद दो तीन वैसे ही मेसेज उसके नंबर पर भेज दिए जिसको पढ़ने के बाद वो अब मुझसे धीरे धीरे खुलने लगी थी। एक दिन मैंने उसको अपने दिल की बात कही, लेकिन उसने मुझसे साफ मना कर दिया और मुझसे सॉरी कहकर मेरी बात को वहीं पर खत्म कर दिया, लेकिन मेरे अंदर उसके उस मेसेज को पढ़ने के बाद उसे एक बार चोदने की इच्छा जाग गई। फिर मैंने एक प्लान बनाया और मैंने उसकी उस दोस्त पर लाईन मारनी शुरू की जो उसकी सबसे अच्छी दोस्त थी पहले पहले तो सब ठीक था, लेकिन वो धीरे धीरे इस बात से जलन महसूस करने लगी थी और वो मुझे समझाने लगी थी कि यह लड़की तुम्हारे लिए बिल्कुल भी ठीक नहीं है उसने मुझे और भी बहुत कहा। अब मैंने ड्रामा करते हुए उससे कहा कि मेरी जो मर्ज़ी होगी वो में करूँगा तुम्हे मुझसे क्या मतलब है? वो मेरी यह बात सुनकर बहुत गुस्सा हो गई और फिर उसने मुझसे कहा कि उसको मुझसे बहुत जरूरी काम के लिए मिलना है और यह बात बोलकर उसने मुझसे दूसरे दिन मिलने का प्लान बनाया और दूसरे दिन हम दोनों एक पार्क में मिले और उसने मुझे हग किया और उसने मुझसे सॉरी कहा और फिर कहा कि वो मेरे साथ रहना चाहती है तो मैंने उसके होंठो पर हल्का सा स्मूच किया और उसकी गर्दन पर अपने दांतो से धीरे से काट लिया और अब उसने भी मेरा पूरा पूरा साथ दिया। फिर मैंने उसके टॉप के ऊपर से उसके बूब्स दबाए और तब तक मेरा लंड खड़ा हो गया था और मैंने उसके हाथों को अपने लंड पर रख दिया और और उसकी जीन्स के ऊपर से उसकी गांड को भी दबाया उस दिन हमारे बीच बस इतना ही हुआ। फिर दूसरे दिन देर रात तक हमारी चेटिंग हुई और तब उसने मुझे बताया कि वो पहली बार झड़ी है और उसको यह सब बहुत अच्छा लगा। फिर मैंने उसको बोला कि अगली बार मुझे तुमको जरुर चोदना है, उसने कहा कि इसमें रिस्क बहुत है, लेकिन में तुम्हारे लिए कोशिश जरुर करूंगी, लेकिन कुछ भी हुआ तो तुम ही सम्भालना। अब मैंने उससे कहा कि हाँ ठीक है तुम बिल्कुल भी चिंता मत करो में हूँ ना यह बात बोलकर मैंने अपनी बात वहीं पर खत्म की और फिर दूसरे दिन में रात को उसके घर के नीचे खड़ा हुआ था और मैंने उसको कॉल किया वो चुपचाप बाहर आई और उसने मुझे पीछे वाला दरवाजा खोलकर मुझे अंदर ले लिया और उसने अपने घर वालों को पहले से ही नींद की दवाई देकर सुला दिया था। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

Loading...

फिर में उसके रूम में पहुंचा तो मैंने तुरंत दरवाजा बंद किया और झट से उसको पकड़कर अपनी तरफ खींच लिया और अपनी जीभ को उसके मुहं में डाल दिया और चूसने लगा। दोस्तों मुझे शुरू से ही सकिंग करना बहुत अच्छा लगता है और ऐसा करने में बहुत मज़ा भी आता है। अब मैंने सेक्स की गोली खाई और उसको भी खिलाई। फिर हम दोनों मस्ती करने पर आ गये और मैंने उसके गुप्त अंग उसके बूब्स और उसकी उसकी मेक्सी को उतारकर नाभी को बहुत अच्छे से चूसा और वो अब सिर्फ़ काली कलर की पेंटी में थी जो कि कम रौशनी में दिखाई नहीं दे रही थी और अब तक मेरा लंड 6.2 इंच पूरा का पूरा तनकर खड़ा हो गया था। फिर अपने एक हाथ से वो मेरे लंड को ऊपर नीचे कर रही थी और में उसके बूब्स को दबा और बीच बीच में चूस भी रहा था और उसकी पेंटी के ऊपर से उसकी चूत को सहला रहा था। अब वो मेरे आंड से खेलने लगी थी और उस समय में उसकी पेंटी को उतारकर उसकी हल्के हल्के बालों वाली चूत को बहुत अच्छे से चाट रहा था जिसकी वजह से वो पागल सी हो गयी थी और कुछ देर उसकी चूत को चाटने के बाद उसने अचानक से अकड़ कर मेरे मुहं में पानी का पिचकारी मारकर झड़ गई। फिर कुछ देर शांत रहने के बाद वो मेरे लंड को अपने मुहं में डालने के लिए बोलने लगी तो में अपना लंड उसके मुहं के सामने ले आया, लेकिन वो ठीक तरह से मेरे लंड को नहीं चूस पाई शायद वो लंड को पहली बार चूस रही थी इसलिए उसके साथ ऐसा था। फिर इसके बाद मैंने अपने लंड पर एक कंडोम चढ़ाया जिसको में पहले से ही अपने साथ में लेकर उसके घर पर गया था, लेकिन उसने कंडोम को जल्दी से उतारकर फेंक दिया और वो मुझसे बोली कि नहीं तुम मुझे ऐसे ही चोदो और में उसकी यह बात सुनकर बहुत चकित था, क्योंकि वो मेरे साथ पहली चुदाई बिना किसी सुरक्षा के करने को तैयार थी। फिर मैंने उसकी प्यासी चूत के मुहं पर अपने लंड का टोपा रख दिया और धीरे धीरे लंड को धकेलते हुए अंदर डालने लगा, जिसकी वजह से मेरा लंड सरकता हुआ अंदर चला गया और मैंने अब हल्के हल्के धक्के दिए, लेकिन दो तीन झटके देने के बाद मुझे इस बात का पता लग गया था कि यह मुझसे चुदने से पहले भी किसी और से चुद चुकी है, क्योंकि उसकी फटी हुई चूत में मेरा लंड बिना किसी परेशानी के फिसलता हुआ पूरा अंदर चला गया और उसे भी लंड के अंदर जाने पर ज्यादा दुःख दर्द या कोई परेशानी नहीं हुई। अब में उसे लगातार धक्के देकर चोदने लगा और उसके कान के पास अपनी जीभ को फेरने लगा तो वो मुझसे मोन करती हुई चुदती रही और कहती रही उफ्फ्फ्फफ आह्ह्ह्हह्ह हाँ थोड़ा और अंदर करो वाह मज़ा आ गया ऊईईईईईईई माँ मर गई, तुम बहुत अच्छे धक्के देकर चुदाई करते हो मेरे राजा हाँ पूरा डाल दो अंदर तुम बहुत अच्छे से चोदते हो उफ्फ्फ्फ़। दोस्तों अब तक वो सिसकियाँ लेते हुए दो बार झड़ चुकी थी और मैंने भी अपना वीर्य इस चुदाई के बीच उसकी चूत में डाल दिया था और में कुछ देर बाद थककर उसके पास लेट गया।

फिर उसने कुछ देर बाद एक बार फिर से मेरे लंड को अपनी चुदाई करने के लिए खड़ा किया और में दोबारा उसकी चुदाई करने के लिए तैयार हुआ और इस बार में और ज़ोर से उसकी चूत में अपना लंड डालकर ज़ोर ज़ोर से उसको चोदने लगा और इस बार मेरे झड़ने का समय बढ़ गया था और में बहुत देरी से झड़ा। फिर अपना पूरा वीर्य चूत में डालने के बाद उसने मुझसे बोला कि अब मेरी चूत को चाटो तो मैंने उसके कहने पर उसकी चूत को चाटा और उसने अब मेरा लंड बहुत अच्छे से चूसा और कुछ देर 69 की पोजीशन में रहने के बाद मैंने उसकी चूत के मुहं पर अपना लंड रख दिया जिसकी वजह से वो सिसकियाँ लेने लगी सस्स्स्सस्स एम्म्म आअहह हाँ और ज़ोर से चोद, हाँ अच्छे से चोद, खा जा मेरे निप्पल को ऐसे करने लगी। अब में भी एम्म्म एम्म की आवाज़ कर रहा था और अपने लंड को लगातार अंदर बाहर कर रहा था। अब हम दोनों पूरे जोश में आकर चुदाई के मज़े ले रहे थे और अब मैंने एक बार फिर से उसकी चूत में धक्के देते हुए अपना वीर्य डाल दिया और अब में उसके ऊपर लेट गया।

Loading...

फिर उस रात को हमारा चुदाई का एक और दौर चला जिसका हमने पूरा पूरा फायदा उठाया, लेकिन इस बार वो मेरे ऊपर थी और में उसके नीचे लेटा हुआ था और वो मेरे लंड के ऊपर बैठकर लगातार ऊपर नीचे हो रही थी और में भी नीचे से धीरे धीरे धक्के लगा रहा था, लेकिन कुछ देर की चुदाई के बाद में झड़ गया और उसमे अभी भी जोश था वो मेरे ऊपर उछलती रही। फिर मेरे लंड से अपनी चूत की चुदाई करती रही, लेकिन कुछ देर बाद वो भी झड़ गई और तब तक मेरा लंड अपने आकर से धीरे धीरे बहुत छोटा होता हुए बाहर आ गया और फिर वो भी मेरे पास में लेट गई। दोस्तों ऐसे करके मैंने हर रात को उसको बहुत बार जमकर चोदा और चुदाई का हमारा यह सिलसिला करीब तीन महीने तक लगातार हर कभी मौका मिलने पर चलता रहा, लेकिन बस में उसके पीरियड्स के समय उसकी चूत को नहीं चोद पाता था, लेकिन में कभी कभी अपने लंड को उसके मुहं में डालकर जरुर शांत किया करता था और में हर रोज़ मौका देखकर उसे जरुर चोदता था ।।

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


sexy adult story in hindihindi se x storiessexy syorysx storyssex khaniya hindiwww hindi sex kahanisax store hindesaxy hind storysexey stories comsexy stry in hindisex store hendiwww free hindi sex storywww sex story in hindi comhindi sexy storisehindisex storiehindi sxiynew hindi sexi storyhindi story for sexindian sexy story in hindisexstores hindistory for sex hindihindi saxy storyhindisex storimummy ki suhagraatbhai ko chodna sikhayafree sex stories in hindisaxy store in hindichut fadne ki kahanifree sex stories in hindibrother sister sex kahaniyahind sexy khaniyahindi sax storesaxy storeywww indian sex stories cohindi audio sex kahaniahindi font sex kahanihindi sex story comsimran ki anokhi kahanihinde sxe storisex hindi font storyhindi sax storysax hindi storeyhindi sexy story adiosexy stroiwww sex story hindisex story hinduwww hindi sexi storyhindi story for sexhindi sex story in hindi languagesex com hindihindi saxy kahanihindi sex stories to readindiansexstories conhinde sax storesexy story hindi msax hindi storeyarti ki chudaihinde sax storysexy story hindi comkamuktha comhindi sexy stories to readsexi kahania in hindisaxy hind storyhind sexy khaniyahindi sexstoreissexi hindi kahani comfree hindi sex kahanihindi front sex storybhabhi ko neend ki goli dekar chodastore hindi sexhindi sexy kahani in hindi fontall hindi sexy storyhinde sax khanisexy khaneya hindibhai ko chodna sikhayasexy hindi story comsex ki story in hindibadi didi ka doodh piyahindi sax storywww sex storeyhindi sxe store